Web 3.0 Kya Hai और यह कब आएगा

Web 3.0 Kya Haiदोस्तों हम सभी जान रहे हैं कि हमें बीसवीं सदी में इंटरनेट एक बहुत ही महत्वपूर्ण वरदान मिला है। हमारे कहने का मतलब है कि जब से इंटरनेट की शुरुआत हुई है तब से इसका उपयोग बढ़ते ही जा रहा है और लोग इस पर काफी ज्यादा निर्भर होते जा रहे हैं। जब से इंटरनेट की शुरुआत हुई है तब से लेकर आज तक समय समय के अंतराल पर इंटरनेट में काफी बदलाव किए गए हैं। जब पहली बार इंटरनेट का आविष्कार हुआ तो उसको 1.0 नाम दिया गया और जब इंटरनेट में दूसरी बार कुछ बदलाव किया गया तो उसे 2.0 नाम दिया गया। अब 2022 में इंटरनेट में एक बार फिर से बदलाव हुए हैं जिसे लोग 3.0 के नाम से जानते हैं। जैसे ही आपके सामने इंटरनेट की तीसरी बदलाव यानी कि 3.0 के बारे में चर्चा हुई तो आपके दिमाग में सबसे पहला प्रश्न यही उठा होगा कि Web 3.0 Kya Hai और यह कब आएगा? 

अगर आप वेब 3.0 के बारे में पूरी जानकारी अच्छे से बात करना चाहते हैं कि वेब 3.0 क्या है और कब इंटरनेट में लांच हो सकता है तो इस‌ वक्त आप बिल्कुल सही जगह पर है। आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको वेब 3.0 के बारे में पूरी जानकारी अच्छे से देंगे। ऊपर बताए गए प्रश्नों के हल जानने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ते रहे। 

Web 3.0 kya hai
Web 3.0 kya hai

Web 3.0 Kya Hai और यह कब आएगा

अगर आप जानना चाहते हैं कि Web 3.0 क्या है और यह कब आएगा तो आइए नीचे वाले पैराग्राफ के माध्यम से इसके बारे में अच्छी तरह जानकारी हासिल करते हैं ताकी इसके बारे में पूरी जानकारी अच्छे से समझ सके। 

दोस्तों जैसा कि हम सभी जानते हैं कि इंटरनेट का आविष्कार 1989 में हुआ था। जब पहली बार इंटरनेट का आविष्कार हुआ तो उसे 1.0 का नाम दिया गया और लोग उसे इसी नाम से जानने लगे। फिर इसके इस्तेमाल को देखते हुए और इसके प्रयोग को देखते हुए इसमें कुछ बदलाव किए गए जिसे लोगों ने 2.0 के नाम से जानना शुरू कर दिया। अब हो सकता है कि 2022 में फिर से इंटरनेट में कुछ बदलाव देखने को मिले जिससे हम 3.0 के नाम से जानेंगे। 

2022 के बदलाव में यह संभव है कि पूरे इंटरनेट को एक ब्लॉकचेन पर रख दिया जाए। हमारे कहने का मतलब कि इंटरनेट को पहले से ज्यादा और भी सुरक्षित कर दिया जाए ताकि जो व्यक्ति अपना डाटा इंटरनेट में सेव रखते हैं उनके अलावा उनका डाटा और कोई हैक ना कर सके। अभी तक इंटरनेट पूरी तरह गूगल या एप्पल पर निर्भर था लेकिन हो सकता है कि 2022 के अंत तक पूरी इंटरनेट दुनिया ब्लॉकचेन पर निर्भर हो जाए। जिससे यह होगा कि किसी भी व्यक्ति का इंटरनेट पर एकाधिकार नहीं होगा और सारे लोग अपनी सुरक्षा के अनुसार और अपनी सुविधा के अनुसार इंटरनेट का इस्तेमाल कर पाएंगे।

Must Read – Bitcoin के जरिए पेमेंट को लेकर ब्रिटेन के सेंट्रल बैंक ने जताई शंका 

निष्कर्ष 

हमने आज Web 3.0 Kya Hai और यह कब आएगा‌ के बारे में जाना। अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो आप इसे अपने मित्रों के साथ साझा जरूर करें।

Previous articleMANA Cryptocurrency क्या है और इसे कैसे खरीदें 
Next articleTop 5 Metaverse Tokens in 2022 जो आपको देंगे जबरदस्त मुनाफा