supreme court on cryptocurrency आया बड़ा खुलासा।

supreme court on cryptocurrency – अगर आप अपने पैसे क्रिप्टो करेंसी में इन्वेस्ट करने की सोच रहे हैं और इससे मुनाफा कमाने की सोच रहे हैं तो आप हाल ही में सुप्रीम कोर्ट का क्रिप्टोकरंसी पर आए फैसले के बारे में जानना जरूर चाहते होंगे। आप जरूर जाना चाहते होंगे कि सुप्रीम कोर्ट ने क्रिप्टो करेंसी पर क्या फैसले लिए हैं क्योंकि क्रिप्टो करेंसी भारत में लीगल घोषित नहीं की गई है लेकिन फिर भी सुप्रीम कोर्ट ने क्रिप्टो करेंसी में दिलचस्पी दिखाई है और क्रिप्टो करेंसी से संबंधित कुछ जानकारियों को लोगों के बीच शेयर की है। हम आज आपको अपने इस लेख के माध्यम से supreme court on cryptocurrency के बारे में विस्तार पूर्वक और अच्छे से बताने का प्रयत्न करेंगे कि सुप्रीम कोर्ट बीते कुछ दिन पहले क्रिप्टो करेंसी पर क्या फैसले ली हैं। 

अगर आप क्रिप्टो करेंसी पर सुप्रीम कोर्ट के आए फैसले को जानना चाहते हैं और अच्छे से समझना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को कृपया अंत तक जरूर पढ़ें। अगर आप इसे अंत तक नहीं पढ़ेंगे तो आपको यह जानकारी पूरी तरह नहीं मिल पाएगी इसलिए इसे आप पढ़ते रहिए और हमारे साथ अंत तक बने रहिए। 

supreme court on cryptocurrency आया बड़ा खुलासा। 99 Hindi

supreme court on cryptocurrency 

अगर आप चाहते हैं कि आप बीते कुछ दिन पहले सुप्रीम कोर्ट का क्रिप्टोकरंसी पर आए फैसले के बारे में जाने तो हम आपको नीचे इसके बारे में जरूर बताएंगे। उससे पहले आप यह जान ले कि अभी भी क्रिप्टोकरंसी भारत में लीगल घोषित नहीं हुई है आइए हम आपको नीचे बताते हैं कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला क्रिप्टो करेंसी के ऊपर क्या आया है यानी कि हम नीचे वाले पैराग्राफ में supreme court on cryptocurrency के बारे में जानेंगे। 

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं कि क्रिप्टो करेंसी भारत में कभी लीगल घोषित नहीं हुई थी और आज भी यह भारत में लीगल घोषित नहीं हुई है लेकिन फिर भी क्रिप्टो करेंसी का भारत में बढ़ते उपयोग को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट में क्रिप्टोकरंसी पर टैक्स लगाने का फैसला किया है। भले ही भारत के लोग सरकार से चोरी छुपे क्रिप्टो करेंसी में अपने पैसे इन्वेस्ट करते हैं लेकिन फिर भी सरकार को इस बात की भनक लग जाती है इसलिए सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के साथ मिलकर यह फैसला लिया है कि अब अगर किसी भी तरह की क्रिप्टो करेंसी की लेनदेन भारत के नागरिक के द्वारा की जाती है तो उसे हर क्रिप्टो करेंसी के लेनदेन पर 30 परसेंट तक का टैक्स देना होगा। 

हमारे कहने का मतलब है कि अगर कोई व्यक्ति क्रिप्टो करेंसी में अपने पैसे इन्वेस्ट करता है या फिर क्रिप्टोकरंसी को बेचता है तो उसे अपने क्रिप्टो करेंसी में इन्वेस्ट किए गए पैसे का 30 परसेंट सरकार को टैक्स के रूप में देना पड़ेगा। यह नियम सभी भारतीय नागरिकों के लिए लागू की गई है। आप छोटे मात्रा में क्रिप्टोकरंसी की लेनदेन करें या फिर बड़ी मात्रा में आपको अपने लेन-देन का 30 परसेंट टैक्स देना ही पड़ेगा। 

Wazir X kya hai – कैसे इस्तेमाल करे ये ऐप्लकैशन

EPAN cryptocurrency क्या है और कैसे इसमे निवेश करते है

निष्कर्ष

 
हमने आज अपने इस लेख के माध्यम से आपको supreme court on cryptocurrency के बारे में जानकारी प्राप्त कराई कि सुप्रीम कोर्ट के द्वारा क्रिप्टो करेंसी पर क्या फैसला लिया गया है। अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आई तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ साथ अपने सोशल मीडिया पर साझा जरूर करें।

Previous articleआइए cryptocurrency kaise kharida jata hai के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में प्राप्त करते हैं।
Next articlecryptocurrency Investment guide in hindi के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में।