PI Network kya hai in Hindi?

क्रिप्टो करेंसी की मांग पूरी दुनिया में बड़ी तेजी से फैल रही है। बिटकॉइन के आने से हर किसी के दिल च स्पीक क्रिप्टो कॉइन में बड़ी है बिटकॉइन वरी थेरियम जैसे क्रिप्टो कॉइन के बढ़ते दाम ने जाने कितने लोगों को रोडपति से करोड़पति बना दिया। यह देखकर लोग क्रिप्टो करेंसी को समझ रहे हैं और उसमें अपना पैसा निवेश करने की कोशिश कर रहे हैं इस क्षेत्र में बढ़ती मांग को देखकर स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के कुछ छात्रों ने pi नाम के एक नए क्रिप्टो करेंसी की खोज की।

इस नए क्रिप्टो करेंसी को pi network कहा जाता है। लोगों के मन में यह विचार आता है की आखिर pi network kya hai अगर आप भी दुनिया में पाए जाने वाले इस नए किस्म से pi network के बारे में जानना चाहते है खास तौर पर यही के बारे में समझना चाहते है तो आज के लेख में आपको विस्तार पूर्वक जानकारी देने का प्रयास किया गया है। 

pi network kya hai

क्रिप्टो करेंसी क्या होता है?

इस वेबसाइट में हमने आपको क्रिप्टो करेंसी के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी कहीं बार दी है अगर दोबारा हम इस बात को अच्छे से समझाएं तो कहेंगे कि क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल मुद्रा होती है अर्थात एक ऐसा पैसा जिसे आप केवल मोबाइल और कंप्यूटर में देख सकते है। इस पैसे के लिए कोई कंट्रोल बॉडी नहीं चलाई जाती सुरक्षित रखने के लिए इस पैसे की जानकारी को ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी में रखा जाता है।

Blockchain Technology की वजह से बिना किसी रेगुलेटरी बॉडी के यह पैसा पूरी दुनिया में काम में आता है अर्थात आप कह सकते हैं एक ऐसा पैसा जो पूरी दुनिया में चलता है और उससे खर्च करने की मांग जितनी तेजी से बढ़ती है इसकी कीमत भी उतनी ही बढ़ जाती है सबसे अधिक मांग आजकल बिटकॉइन की है यह एक ऐसा क्रिप्टो करेंसी है जिसे हर कोई इस्तेमाल करना चाहता है। 

सरल शब्दों में याद रखें एक ऐसा पैसा जिसे आप केवल कंप्यूटर और मोबाइल में देख सकते हैं साथ ही उसका इस्तेमाल ऑनलाइन ही कर सकते हैं किसी भी रेगुलेटरी बॉडी ना होने के कारण लोग इस पैसे का अपने मर्जी के अनुसार किसी भी चीज की कीमत कुछ भी रखने के लिए कर सकते हैं जिस तेजी से किसी भी क्रिप्टो करेंसी की मांग बढ़ती है उसकी कीमत भी बढ़ने लगती है आज ऐसे ही एक क्रिप्टो करेंसी pi network kya hai को समझाने का प्रयास कर रहे हैं। 

Pi network kya hai?

आपको बता दें कि अमेरिका के स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले कुछ छात्रों ने बिटकॉइन जैसे क्रिप्टो करेंसी की बढ़ती मांग को देखकर खुद का एक क्रिप्टो करेंसी बनाने का विचार सबके समक्ष रखा यूनिवर्सिटी के कुछ दिग्गज प्रोफेसर को यह विचार काफी पसंद आया और कुछ अनुभवी लोगों की टीम ने दुनिया के समक्ष एक नई क्रिप्टो करेंसी का इजाद किया जिसका नाम pi network रखा गया। 

pi network नाम के इस क्रिप्टो करेंसी को 2019 में शुरू किया गया। जब इस क्रिप्टो करेंसी को शुरू किया गया तो लोग उसे नहीं जानते थे इस वजह से लोगों के बीच इसकी मांग नहीं थी तो इसकी कीमत बहुत कम थी आज इसकी कीमत धीरे-धीरे बढ़ रही है अब तक पूरे विश्व से छह लाख से ज्यादा लोग इसके साथ जुड़ गए हैं।

pi network बाकी क्रिप्टो करेंसी से अलग कैसे है?

अगर हम इस बात को जानने का प्रयास करें किया है बाकी नेटवर्क से अलग कैसे हैं तो आपको पता चलेगा कि जब भी क्रिप्टो करेंसी बनता है तो उसे अधिक से अधिक निकालने के लिए माइनिंग किया जाता है। क्रिप्टो करेंसी की माइनिंग जितनी अधिक की जाती है उसकी मात्रा उतनी ही अधिक बढ़ती है अगर किसी चीज की मांग बढ़ रही है तो उसकी मात्रा को पढ़ाना भी आवश्यक हो जाता है। 

इससे पहले जितने भी क्रिप्टो करेंसी होती थी उन सब में माइनिंग करने के लिए काफी खर्चीली उपकरण और जटिल प्रक्रिया का इस्तेमाल किया जाता था मगर इस क्रिप्टो करेंसी की सबसे बड़ी खासियत है कि आपको किसी भी जटिल प्रक्रिया का पालन नहीं करना बड़ी आसानी से केवल अपने मोबाइल का इस्तेमाल करके आप इस क्रिप्टो करेंसी का उत्पादन कर सकते हैं। 

pi network में माइनिंग कैसे करते हैं?

जैसा कि हमने आपको बताया इस क्रिप्टो करेंसी में माइनिंग काफी आराम से किया जाता है तो अगर आप इस क्रिप्टो करेंसी में माइनिंग करने की प्रक्रिया को समझना चाहते हैं तो आपको बता दें इसके लिए आपको गूगल प्ले स्टोर से Pi ऐप डाउनलोड करना होगा। 

यह क्रिप्टो करेंसी 2019 में लॉन्च होकर क्रिप्टो करेंसी दुनिया में एक क्रांति का कार्य कर रहा है इसकी माइनिंग प्रक्रिया को इतना आसान कर दिया गया है कि आप गूगल प्ले स्टोर से pi ऐप को डाउनलोड करके उसमें अपना अकाउंट बनाकर केवल मोबाइल से दो-तीन टच करके माइन कर सकते हैं और pi network नाम के क्रिप्टो करेंसी का उत्पादन कर सकते हैं। 

जब भी आप किसी क्रिप्टो करेंसी कि माइनिंग करते हैं तो आपको विभिन्न प्रकार के उपकरण की आवश्यकता और तेज इंटरनेट की जरूरत पड़ती है जिसमें काफी खर्च आता है मगर यह पहला क्रिप्टो करेंसी है जिसके माइनिंग में आपको किसी भी प्रकार के खर्च करने की आवश्यकता नहीं है साथ ही काफी कम समय और केवल अपने मोबाइल सीही आप अच्छी खासी माइनिंग कर सकते हैं। 

pi network कैसे डाउनलोड करें?

अगर आप इस क्रिप्टो करेंसी से प्रभावित होकर इसे डाउनलोड करना चाहते हैं तो नीचे कुछ निर्देश दिए गए हैं उनका आदेश अनुसार पालन करें। 

  • सबसे पहले प्ले स्टोर से जाकर Pi ऐप को डाउनलोड करें यह काफी कम एमबी का ऐप है और अपने घर में साधारण इंटरनेट की स्पीड से आप इसे बड़ी आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं। 
  • डाउनलोड होने के बाद इसमें आपको साइन अप करना है जिसमें यूजर नेम और पासवर्ड चुनने के साथ अपना ईमेल आईडी भी देना है आप चाहे तो फेसबुक आईडी भी दे सकते हैं। 
  • अब आपको Pi Network Invitation Code पुछा जाएगा तो आपको “sunnyghuman” डालना है।
  • साइन अप करने के दौरान आप उसी नाम का चयन कर सकते हैं जो नाम आधार कार्ड पर लिखा गया हो। अपना मोबाइल नंबर देना भी अनिवार्य है उसके बाद आपका एक काउंटर इस ऐप पर बन जाएगा। 
  • इस ऐप को समझना काफी सरल है उसमें आपको जिस प्रकार के आदेश दिए जा रहे हो उनका पालन करने से आप पाएंगे कि आप क्रिप्टो करेंसी का इजाद कर पा रहे हैं। आप इस ऐप के जरिए pi network नाम के क्रिप्टो करेंसी को खरीद भी सकते हैं और भविष्य के लिए अपनी पूंजी निवेश करके रख सकते हैं। 

निष्कर्ष 

उम्मीद करते हैं ऊपर बताई गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ने के बाद आप समझ पाए होंगे कि pi network kya hai यह एक प्रचलित एप्लीकेशन है जिसका इस्तेमाल करके आप बड़ी आसानी से अपने पैसे को निवेश करके अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

Previous articleCrypto predictions kaise kare?
Next articleCryptocurrency kya hai in Hindi?