Meta – जानिए Facebook का नया नाम (जानिए ये कैसे काम करता है)

Meta – बीते कुछ समय से मेटा शब्द सोशल मीडिया और न्यूज़ में काफी अधिक छाया हुआ है यह शब्द फेसबुक से ताल्लुक रखता है सरल शब्दों में बताएं तो फेसबुक अपने नाम को बदलकर मेटा करना चाहती है इसके पीछे क्या कारण है और मेटा शब्द का क्या अर्थ होता है साथ ही इससे जुड़ी कुछ अन्य रोचक बातें आज के लेख में विस्तार पूर्वक बताने का प्रयास किया गया है। 

Meta – बीते कुछ समय से मेटा शब्द सोशल मीडिया और न्यूज़ में काफी अधिक छाया हुआ है यह शब्द फेसबुक से ताल्लुक रखता है सरल शब्दों में बताएं तो फेसबुक अपने नाम को बदलकर मेटा करना चाहती है इसके पीछे क्या कारण है और मेटा शब्द का क्या अर्थ होता है साथ ही इससे जुड़ी कुछ अन्य रोचक बातें आज के लेख में विस्तार पूर्वक बताने का प्रयास किया गया है। 

जब से दुनिया में इंटरनेट सस्ता हुआ है लोग विभिन्न प्रकार के आविष्कार और टेक्नोलॉजी के तरफ आकर्षित होते जा रहे हैं क्रिप्टो करेंसी और ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के बाद मीटेवर्स की टेक्नोलॉजी ने दुनिया को चौंका कर रख दिया। यह एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जिसके मदद से आप उस जगह को देख सकते हैं जहां आप जा नहीं सकते। meta शब्द से क्या तात्पर्य है और फेसबुक का इससे क्या ताल्लुक है जैसे सवालों के बीच अगर आप भी फंसे हुए हैं तो हमारे लेख के साथ ऑन तक बनी रहे।

Meta
Facebook Meta

Meta क्या है

सोशल मीडिया न्यूज़ और विभिन्न प्रकार के जगहों पर आपने मेटा शब्द सुना होगा और इस शब्द का अर्थ जानने का प्रयास कर रहे होंगे तो आपको बता दें यह शब्द फेसबुक का आने वाला नया नाम होने वाला है।

फेसबुक के मालिक और विश्व के जाने-माने रईस व्यक्ति मार्क ज़ुकेरबर्ग का कहना है कि फेसबुक को केवल एक सोशल मीडिया एप्लीकेशन तक सीमित नहीं रखना चाहिए वह अन्य क्षेत्र में भी अपनी ख्याति बटोर ना चाहते हैं जिसके लिए उन्होंने फेसबुक को मेटा नाम देने का निर्णय किया है। 

Meta एक ग्रीक शब्द है जिसका तात्पर्य होता है हद से ज्यादा फेसबुक के मालिक का कहना है कि वह इस एप्लीकेशन के जरिए अन्य टेक्नोलॉजी को विश्व के समक्ष लेकर आएंगे और उनके द्वारा लाई गई टेक्नोलॉजी विश्व को कुछ ऐसा दिखाएगी जो टेक्नोलॉजी को हद से आगे ले जाने के बराबर है। 

फेसबुक के मालिक का कहना है कि वह मीठा कंपनी की मदद से मीटेवर्स टेक्नोलॉजी को दुनिया के हर व्यक्ति तक पहुंचाना चाहते हैं यह एक ऐसी वर्चुअल रियालिटी तकनीक होने वाली है जिसकी मदद से आप हर उस चीज का अनुभव घर बैठे कर पाएंगे जो वास्तविक तौर पर आपके समक्ष मौजूद नहीं है। सुनने में यह काफी रोचक लगता है मगर इसकी वजह से दुनिया भर के लोगों के द्वारा विभिन्न प्रकार के सवाल और कॉन्ट्रोवर्सी फेसबुक के तरफ उठ रही है।  

Meta company क्या करती है

आज आप इंस्टाग्राम फेसबुक और व्हाट्सएप जैसे एप्लीकेशन को अगर ओपन करेंगे तो वहां मेटा शब्द लिखा हुआ पाएंगे यह शब्द दर्शाता है कि मेरा नाम की कंपनी के जरिए इन सभी एप्लीकेशन को संचालित किया जा रहा है। मार्क ज़ुकेरबर्ग जो फेसबुक के सीईओ और संस्थापक हुआ करते थे वह अब मेटा नाम की कंपनी के संस्थापक हैं जो तीन सोशल मीडिया एप्लीकेशन को संचालित करने का कार्य करती है। 

इसके अलावा मेटा कंपनी मीटेवर्स नाम की टेक्नोलॉजी को दुनिया के समक्ष लाने में लगी हुई है। इसके जरिए वर्चुअल रियलिटी को एक साथ बनाकर लोगों के समक्ष प्रस्तुत करने का कार्य किया जाएगा यह कितना सही है और कितना गलत हमें आने वाले समय में पता चलेगा वर्तमान समय में इस टेक्नोलॉजी की मांग बड़ी तेजी से बढ़ रही है और हर कोई इस की तरफ बड़ी तेजी से आकर्षित होता दिखाई दे रहा है।

Must Read – Gem kya hai – किस तरह की क्रीपटोंकरन्सी को Gem कहते है।

निष्कर्ष

उम्मीद करते हैं इस लेख में बताई गई जानकारी को पढ़ने के बाद मेटा शब्द से जुड़ी कुछ रोचक बातें आपको पता चली होंगी साथ ही यह कंपनी किस प्रकार लोगों को अपनी तरफ आकर्षित कर रही है इसके बारे में आप सरलता से समझ पाए होंगे अगर मेटा के बारे में आपको अच्छी जानकारी मिली है तो इसे अपने मित्रों के साथ भी साझा करें। 

Previous articleopenseas NFT (क्यूँ हुआ ये प्रचलित और कैसे आप इसमे निवेश करते है)
Next articleOne Coin जानिए क्यूँ रहा ये सबसे कान्ट्रवर्सी वाला कॉइन