India wins the award of world’s fastest blockchain

सिंगापुर में 22 जून 2022 और 23 जून 2022 को Crypto Asia Expo का आयोजन किया गया था जिसमें भारतीय क्रिप्टो करेंसी कंपनी TechPay Coin ने भी हिस्सा लिया। विश्व भर से आए प्रचलित क्रिप्टो करेंसी और blockchain network को संचालित करने वाली कंपनियों ने इस आयोजन में हिस्सा लिया और उनके द्वारा किए गए सबसे तीव्र ट्रांजैक्शन की जानकारी दी। बीते साल भर में कंपनियों के द्वारा जितने भी ब्लॉकचेन पर आधारित ट्रांजैक्शन हुए थे उसकी ध्यान पूर्वक जांच करने के बाद भारतीय ब्लॉकचेन कंपनी TechPay को विश्व का सबसे तेज ब्लॉकचेन माना गया और इसके लिए क्रिप्टो इजीऐक्सपो की तरफ से उन्हें world’s fastest blockchain award से सम्मानित भी किया गया।

सिंगापुर में 22 जून 2022 और 23 जून 2022 को Crypto Asia Expo का आयोजन किया गया था जिसमें भारतीय क्रिप्टो करेंसी कंपनी TechPay Coin ने भी हिस्सा लिया। विश्व भर से आए प्रचलित क्रिप्टो करेंसी और blockchain network को संचालित करने वाली कंपनियों ने इस आयोजन में हिस्सा लिया और उनके द्वारा किए गए सबसे तीव्र ट्रांजैक्शन की जानकारी दी। बीते साल भर में कंपनियों के द्वारा जितने भी ब्लॉकचेन पर आधारित ट्रांजैक्शन हुए थे उसकी ध्यान पूर्वक जांच करने के बाद भारतीय ब्लॉकचेन कंपनी TechPay को विश्व का सबसे तेज ब्लॉकचेन माना गया और इसके लिए क्रिप्टो इजीऐक्सपो की तरफ से उन्हें world’s fastest blockchain award से सम्मानित भी किया गया।

जैसा कि हम सब जानते हैं जमाना बड़ी तेजी से बदल रहा है आज ट्रांजैक्शन ब्लॉकचेन के ऊपर निर्भर होता जा रहा है। क्रिप्टो करेंसी और ब्लॉकचेन का रिश्ता बहुत पुराना है मगर वर्तमान समय में ब्लॉकचेन का इस्तेमाल करके विभिन्न प्रकार के ट्रांजैक्शन को अंजाम दिया जा रहा है। आने वाले समय में ब्लॉकचेन एक नया भविष्य होने वाला है इस दौड़ में भारतीय कंपनी का सबसे आगे होना भारत के लिए गर्व की बात है। हम इस अवार्ड के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी आज के डेट में प्रस्तुत करने जा रहे हैं।

India wins the award of world’s fastest blockchain
Credit: Techpay.io

ब्लॉकचेन क्या होता है?

सरल शब्दों में आपको ब्लॉकचेन को एक डिजिटल बहीखाता के रूप में देख सकते है। जिस प्रकार किसी भी तरह के लेनदेन की जानकारी हम अपने बहीखाता में लिखते हैं उसी प्रकार एक चैन बनाया जाता है जिसमें इस बात की जानकारी होती है की छोटे से छोटा ट्रांजैक्शन कैसे और किसके साथ हुआ है इसकी जानकारी होती है। ब्लॉकचेन को सबसे सुरक्षित ट्रांजैक्शन का जरिया माना जाता है। किसी भी तरह के ट्रांजैक्शन को अगर ब्लॉकचेन में किया जाए तो उसमें किसी भी तरह का छेड़छाड़ नहीं किया जा सकता।

वर्तमान समय में किए गए ट्रांजैक्शन को विश्व का सबसे सुरक्षित ट्रांजैक्शन माना जाता है मगर क्रिप्टो करेंसी की कीमत बड़ी तेजी से ऊपर नीचे होती है इस वजह से इसे सभी देशों में लागू नहीं किया गया है। बैराल ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर भारतीय कंपनी TechPay भी काम करती है। भारतीय कंपनी इस प्रतियोगिता में सबसे तेज ब्लॉकचेन ट्रांजैक्शन को अंजाम देते हुए सबसे तेज ब्लॉकचेन संचालित करने वाली कंपनी बन चुकी है।

India win the award of world’s fastest blockchain

जैसा की हमने आपको पहले बताया 2022 में 22 जून और 23 जून को सिंगापुर देश में Crypto Asia Expo 2022 के नाम से सभी ब्लॉकचेन संचालित करने वाली कंपनियों के साथ मिलकर एक आयोजन किया गया था। यह आयोजन हर साल अलग-अलग कंपनियों के द्वारा किया जाता है। अगर हम बीते वर्ष की बात करें तो 2021 में Solona नाम के प्रचलित क्रिप्टो कॉइन के द्वारा इस अवार्ड को जीता गया था।

हालांकि अलग-अलग तरह के क्रिप्टो करेंसी लगातार बाजार में आ रहे है। इस दौड़ में TechPay Coin या TPC के नाम से प्रचलित एस ब्लॉक जाना संचालित करने वाली कंपनी से किसी को भी उम्मीद नहीं थी। अचानक अपनी उम्मीद पर खरा उतरते हुए भारत का नाम रोशन किया है। वर्तमान TPC की तीन लाख से ज्यादा कॉइन सक्रिय रुप से काम कर रही है। जिस ट्रांजैक्शन टाइमिंग के आधार पर इस कंपनी को इस अवार्ड से सम्मानित किया गया वह 471 मिलीसेकंड का है।

Also Read: Kucoin exchange क्या है और कैसे इसमे निवेश करते है

क्यों TPC सबसे जल्दी स्केल करने वाला ब्लॉकचेन होगा?

जैसा कि हमने आपको बताया जमाना बड़ी तेजी से बदल रहा है और हर कोई अलग-अलग तरह के क्रिप्टो करेंसी में निवेश कर रहा है। ऐसे में TPC coin के द्वारा सबसे जल्दी ट्रांजैक्शन करने का अवार्ड जितना इसे इस मार्केट का सबसे प्रचलित कॉइन बना सकता है। वर्तमान समय में ब्लॉकचेन कंपनी के पास तेजी से स्केल करने का मौका है। TPC coin वर्तमान समय में Blockchain 2.O और ब्लॉकचेन 3.O का इस्तेमाल कर रहा है। इसके अलावा coordinated non-cyclic graph (DAG) प्रोसेस पर काम कर रहा है जो इसके Blockchain stretches को कम कर रहा है और इस वजह से इस कंपनी का ब्लॉक से इतनी तीव्रता से काम कर पा रहा है।

सरल शब्दों में हम ऐसा कह सकते हैं कि TPC के द्वारा बहुत ही उम्दा तकनीकों का इस्तेमाल किया जा रहा है जिसका परिणाम है कि इसका अधिकांश ट्रांजैक्शन 500 मिलीसेकंड में पूरा हो जाता है। जिस वजह से लोगों का मानना है कि ब्लॉकचेन मार्केट में यह कंपनी बड़ी तेजी से स्केल करने वाली है और आने वाले समय में एक नए भविष्य का उदय करेगी।

निष्कर्ष

आज इस लेख में हमने आपको India win the award of world’s fastest blockchain के न्यूज़ के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देते हुए TPC कंपनी से जुड़े कुछ बेहतरीन जानकारी दी है। जिसे पढ़ने के बाद अब यह समझ पा रहे होंगे कि क्यों यह कंपनी इतनी तेजी से ब्लॉकचेन मार्केट में प्रचलित हासिल कर रही है और किस प्रकार इसने उन्नत तकनीकों का इस्तेमाल करते हुए भारत को ब्लाकचैन इंडस्ट्री में गर्व करने का मौका दिया है।

Previous articleFilmyZilla 2022 – Bollywood, Hollywood Hindi Dubbed Movies
Next articleSattabatta Matka क्या है और लाइव रिजल्ट कैसे देखे?