Cryptocurrency Prices: क्रिप्टो करेंसी में आ रही है गिरावट

आज पूरी दुनिया में क्रिप्टो करेंसी की चर्चा है। क्रिप्टो करेंसी एक ऐसा डिजिटल करेंसी है जिसे डिसेंट्रलाइजेशन के द्वारा मैनेज किया जाता है इसका मतलब यह है कि इसका कोई एक मालिक नहीं होगा या इसके ऊपर किसी एक का कंट्रोल नहीं होगा।

दोस्तो क्रिप्टो करेंसी में फिर से गिरावट देखी गई है। जिसकी वजह से crypto निवेशक काफी दुखी हैं। शुक्रवार को ज्यादातर क्रिप्टो करेंसी में गिरावट देखी गई है। वही आपको बता दें कि ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैप पिछले 24 घंटों में 2.7 फ़ीसदी से गिरकर 1.87 पर पहुंच गई है। आपको  बता दे कि डिसेंट्रलाइज फाइनेंस मे कुल वॉल्यूम 10.13 अरब डॉलर पर मौजूद है। जो 24 घंटों में कुल ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैप का 78.49 फ़ीसदी है। बात करे बिटकॉइन की तो इसमें भी काफी गिरावट देखी गई है और पिछले चौबीस घंटों के दौरान 2. 4 फ़ीसदी की गिरावट के साथ 31 लाख 80 हजार ₹499 पर पहुंच गया है।

एथेरियम और बिटकॉइन की कीमतों खेल लगातार नीचे गिरने से इसकी निवेशक काफी चिंतित है। पिछले 24 घंटों में दुनिया की सबसे बड़ी और लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी Bitcoin 0.22 फ़ीसदी से नीचे गिर कर 40.75 फ़ीसदी तक हो गई है। पिछले कुछ समय में इसकी कीमत में लगातार गिरावट देखी गई है।

Cryptocurrency Prices: क्रिप्टो करेंसी में आ रही है गिरावट 99 Hindi

Tethar में दिखी तेजी

वहीं आपको बता दें कि बिटकॉइन और एथेरियम में पिछले कुछ समय में लगातार गिरावट देखी गई हैं जबकि Tethar में तेजी दिखी हैं।Tether 0.44 फीसदी की तेजी के साथ 79.49 रुपये पर ट्रेड कर रही है।Cardano की बात करें, तो इस क्रिप्टोकरेंसी में पिछले 24 घंटों के दौरान 2.33 फीसदी की गिरावट देखी गई है. यह क्रिप्टोकरेंसी मौजूदा समय में 75.20 रुपये पर आ गई है। एथेरियम और बिटकॉइन की कीमत तो में गिरावट होने के बावजूद Tethar में तेजी दिखी है काफी आश्चर्यचकित की बात है।

 बात करे, Binance Coin की कीमतें 0.6 फीसदी गिरकर 33,100.68 रुपये पर पहुंच गई हैं. वहीं, XRP 5.6 फीसदी की तेजी के साथ 61.20 रुपये पर मौजूद है. जबकि, Polkadot 0.58 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 1,450.00 रुपये पर आ गया है.Dogecoin पिछले 24 घंटों में 2.0 फीसदी के उछाल के साथ 11.34 रुपये पर पहुंच गया है.

डिजिटल करेंसी कैसी जगह ले सकती है: RBI Deputy Governer

वहीं आपको बता दे कि आरबीआई यानी कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के डिप्टी गवर्नर T R.B शंकर का कहना है कि भारत में डिजिटल करेंसी कुछ हद तक Cash की जगह ले सकती है। कुछ दिन पहले एक वेबीनार में उन्होंने इस बात को कहा था कि भारत में डिजिटल करेंसी बहुत हद तक cash की जगह ले सकती हैं। उन्होंने कहा कि पिछले 5 सालों में भारत में डिजिटल पेमेंट 50 फ़ीसदी की औसत से बढ़ा है जबकि डिजिटल करेंसी की सप्लाई करीब दोगुनी हुई है।

सरकार ने क्रिप्टो करेंसी और रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल करेंसी डिजिटल बिल संसद के शीतकालीन सत्र में पेश करने के लिस्ट किया था पर उस समय से पेश नहीं किया गया। अब सरकार इसमें दोबारा काम करके इसे पेश करेगी।

क्रिप्टो बाजार में बहार: बिटक्वाइन ने फिर पार किया 41000 डॉलर का आंकड़ा, इथेरियम…

Conclusion:

दोस्तों हमारा ये लेख आपको पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Previous articleNFT kya hai और NFT kaise kaam karta hai – इस लेख से जुड़े सभी जानकारी
Next articleक्रिप्टो मार्केट फिर से लाल, लेकिन XRP में आया उछाल