कैसे तय होती है किसी Cryptocurrency की वैल्यू

जाने किस तरह से आपके पसंदीदा क्रिप्टोकरेंसी की कीमत तय की जाती है और वह कौन कौन की बाते है जो किसी भी क्रिप्टोकरेंसी की कीमत पर असर डालते है। यदि आपके मन में भी क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े ऐसे सवाल आते है। तो क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े हुए इन महत्वपूर्ण बातो को जानने के लिए आप हमारे इस ब्लॉग के साथ अंत तक बने रहे। ताकि आप भी इन सभी बातो को जान सके और अपने ज्ञान को बढ़ा सकें।

जाने किस तरह से आपके पसंदीदा क्रिप्टोकरेंसी की कीमत तय की जाती है और वह कौन कौन की बाते है जो किसी भी क्रिप्टोकरेंसी की कीमत पर असर डालते है। यदि आपके मन में भी क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े ऐसे सवाल आते है। तो क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े हुए इन महत्वपूर्ण बातो को जानने के लिए आप हमारे इस ब्लॉग के साथ अंत तक बने रहे। ताकि आप भी इन सभी बातो को जान सके और अपने ज्ञान को बढ़ा सकें।

कैसे तय होती है किसी Cryptocurrency की वैल्यू 99 Hindi

आज के इस दौर में सभी नए युवा क्रिप्टो मार्किट की ओर ज्यादा आकर सहित हो रहे है। अब हर कोई क्रिप्टोकरेंसी के ज़रिये ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाने की इक्छा रखते है। लेकिन कभी न कभी आपके मन यह ख्याल तो आया ही होगा की वह कौन से कारन है जिनकी वजह से क्रिप्टोकरेंसी में बदलाव हो जाते है। यह बात तो आप भी जानते होंगे कि किसी भी एसेट की कीमत उसकी मांगो की वजह से बढ़ जाती है। यदि किसी भी एसेट की मांग ज्यादा है तो अपने आप ही उस एसेट की कीमत बढ़ जाती है। इसी के साथ ही यदि किसी एसेट की मांग कम हो जाये तो उस एसेट की कीमत कम भी हो जाती है।

किसी भी एसेट की मांग उसकी संख्या पर भी निर्भर करती है जिसकी सयांखिया जितनी काम होती है उसकी मांग भी उतनी ही ज्यादा बढ़ जाती है। और हर क्रिप्टोकरेंसी को सिमित ही बनाया गया है जिस वजह से उसकी मांग भी बढ़ जाती है। तभी पिछले सालो के मुकाबले आने वाले सालो में क्रिप्टो करेंसी की मांग और कीमत दोनों ही बढ़ी है।

नोड काउंट क्या होता है -:

नोड काउंट की बात करे तो वह किसी भी क्रिप्टोकरेंसी के एक्टिव वॉलेट्स के नंबरो को कहा जाता है। इस चीज़ को आप उस क्रिप्टोकरेंसी के नाम से भी सर्च कर के मॉनिटर कर सकते है। और साथ ही आप इस चीज़ से क्रिप्टोकरेंसी में होने वाले बदलावों पर भी नज़र डाल सकते है।

क्रिप्टोकरेंसी की माइनिंग -:

किसी भी क्रिप्टोकरेंसी की माइनिंग सिमित ही की जाती है यदि दूसरी भाषा में कहे तो किसी भी क्रिप्टोकरेंसी को सिमित ही बनाया जाता है। जिस वजह से शुरू में तो उस करेंसी की कीमत कम होती है लेकिन बाद में उस करेंसी की कीमत आसमान भी छू सकती है।

ब्लॉकचैन का कांसेप्ट -:

यदि आप ब्लॉकचैन के बारे में नहीं जानते है तो आपको हम बता दे कि ब्लॉकचैन के माध्यम से ही आपके द्वारा खरीदी गयी क्रिप्टोकरेंसी की कीमत को स्टोर किया जाता है और साथ ही आपके नाम पर कितनी करेंसी मौजूद है यह अभी बाते उस ब्लॉकचैन के माध्यम से बहुत सारे कम्प्यूटर्स में स्टोर किया जाता है। इससे किसी भी क्रिप्टोकरेंसी की सिक्योरिटी काफी ज्यादा मजबूत हो जाती है और इसमें धोखा धड़ी करना बेहद मुश्किल हो जाता है।

तो आज इस तरह आपने जाना कि किसी भी क्रिप्टोकरेंसी कि कीमत किस तरह तय होती है और साथ ही वह कौन कौन बाते जिनसे क्रिप्टोकरेंसी की कीमत पर फर्क पढता है। यदि आप किसी तरह क्रिप्टोकरेंसी की खबरों से अपडेट रहना चाहते है तो आप हमे फॉलो कर सकते है और साथ ही आप हमारे इस ब्लॉग को अपने सभी दोस्तों को भी शेयर कर सकते है।

Previous articleBitcoin और Ether जैसी क्रिप्टोकरेंसीज में क्यों आ रही गिरावट
Next articleBitcoin में फिर अच्छी तेजी, ईथर, डोजकॉइन, टेरा सहित अन्य क्रिप्टोकरेंसीज में भी तगड़ा उछाल