बिटकॉइन किस देश की करेंसी है

bitcoin kis desh ki currency hai – यदि आप क्रिप्टोकरेंसी की खबरों से तालुकात रखते है तो आप क्रिप्टो मार्किट की सबसे बड़ी करेंसी बिटकॉइन के बारे में जानते ही होंगे। यह एक ऐसी करेंसी है जिसे सब खरीदना पसंद करते है और साथ ही यह करेंसी सब की पसंददीदा क्रिप्टोकरेंसी भी है। क्या आपने कभी सोचा है कि लोगो द्वारा पसंद किये जाने वाली करेंसी को किस तरह मार्किट में लाया गया और साथ ही यह करेंसी किस देश की है। खबरों को पुराने जाने और बने रहे हमारे ब्लॉग के साथ अंत तक।

bitcoin kis desh ki currency hai – यदि आप क्रिप्टोकरेंसी की खबरों से तालुकात रखते है तो आप क्रिप्टो मार्किट की सबसे बड़ी करेंसी बिटकॉइन के बारे में जानते ही होंगे। यह एक ऐसी करेंसी है जिसे सब खरीदना पसंद करते है और साथ ही यह करेंसी सब की पसंददीदा क्रिप्टोकरेंसी भी है। क्या आपने कभी सोचा है कि लोगो द्वारा पसंद किये जाने वाली करेंसी को किस तरह मार्किट में लाया गया और साथ ही यह करेंसी किस देश की है। खबरों को पुराने जाने और बने रहे हमारे ब्लॉग के साथ अंत तक।

बिटकॉइन किस देश की करेंसी है 99 Hindi

bitcoin kis desh ki currency hai -:

यदि हम बिटकॉइन की उत्पत्ति की बात करें तो इस बारे काफ़ी कम लोग ही जानते है। लेकिन हम आपको बता दे की इंटरनेट में मिले सूत्रों के अनुसार बिटकॉइन को साल 2009 में जापान (bitcoin kis desh ki currency hai) देश में बनाया गया था। और बिटकॉइन को बनाने वाले का नाम “सातोशी नाकामोतो” था। हालाकि इस बात की कोई पुष्टि नहीं ही कि यह नाम कई लोगो की मिली जुली संस्था का है या फिर यह नाम किसी प्रत्येक व्यक्ति का। यह बात कभी सामने नहीं लाई गई।

भले ही बिटकॉइन नामक क्रिप्टोकरेंसी को जापान के देश में बया गया। लेकिन वह की सरकार का बिटकॉइन पर कोई काबू नहीं है। बिटकॉइन को कुछ गिने चुनें लोगो द्वारा ही ऑपरेट किया जाता है। लेकिन वह लोग भी कभी दुनिया के सामने नहीं आये है और वह खुदको दुनिया के सामने लाने के लिए सातोशी नाकामोतो के नाम का ही इस्तेमाल करते है।

बिटकॉइन को किस देश का माना जाए –

जैसा कि हमने आपको बताया बिटकॉइन को सातोशी नाकामोतो व्यक्ति या फिर किसी संस्था के द्वारा साल 2009 में जापान देश में बनाया गया था। जिसका अर्थ यह हुआ कि बिटकॉइन को हम जापान देश का मान सकते है। लेकिन जापान देश का होने के बावजूद भी इसे पुरे रूप से जापानी आभासी का चलन नहीं मान सकते है। क्योंकि जापान देश का होने पर भी वह कि सरकार का बिटकॉइन करेंसी पर किसी भी तरह का काबू नहीं है।

“क्रिप्टोकरेंसी से फैल सकती है अराजकता’, जानें आखिर Ethereum के फाउंडर ने क्यों दी यह चेतावनी?

इन देशो में सबसे ज्यादा ख़रीदा जाता है बिटकॉइन -:

वैसे तो आपको यह बात तो पता ही होगी कि बिटकॉइन की लोकप्रियता पूरी दुनिया भर में कितनी है। जिस वजह से पुरे दुनिया भर में बिटकॉइन को करीबन सभी देश में लोगो द्वारा ख़रीदा जाता है। लेकिन अब हम जानेंगे कि बिटकॉइन को कौन कौन से देश में लोगो द्वारा सबसे ज्यादा ख़रीदा जाता है।

Ukraine में 12.73% लोगो द्वारा बिटकॉइन ख़रीदा जाता है।

Russia में 11.91% लोगो द्वारा बिटकॉइन ख़रीदा जाता है।

Venezuela में 10.34% लोगो द्वारा बिटकॉइन ख़रीदा जाता है।

Kenya में 8.52% लोगो द्वारा बिटकॉइन ख़रीदा जाता है।

USA में 8.21% लोगो द्वारा बिटकॉइन ख़रीदा जाता है।

South Africa में 7.11% लोगो द्वारा बिटकॉइन ख़रीदा जाता है।

India में 7.30% लोगो द्वारा बिटकॉइन ख़रीदा जाता है।

Nigeria में 6.31% लोगो द्वारा बिटकॉइन ख़रीदा जाता है।

Colombia में 6.14% लोगो द्वारा बिटकॉइन ख़रीदा जाता है।

तो आज के दिन आपने बिटकॉइन से जुड़े हुए बातों को जाना जिसमें आपने बिटकॉइन किस देश का है और साथ ही इसे किसके द्वारा बनाया गया यह सब जाना है। यदि आप हमारे माध्यम से इसी तरह के खबरों को पढ़ना चाहते है तो इसके लिए आप हमारे साथ जुड़े रहे और साथ ही आप हमारे इस ब्लॉग को शेयर भी करें।

Previous articleTaiwan में NFT के जरीए कठपुतली कला को बचाने की कोशिश की गई
Next articleसबसे सस्ती क्रिप्टो करेंसी कौन सी है?