बिटकॉइन की कीमतों में गिरावट जारी, Ethereum भी खिसकी नीचे

शनिवार के दिन क्रिप्टो मार्किट में हमें गिरावट देखने को मिली है। और साथ ही ग्लोबल मार्किट कैप में हमें 1.84 ट्रिलियन डॉलर तक जाते दिखा है। जिस पर बीते पिछले दिन ही 1.82% तक की गिरावट देखने को मिली है। पुरे क्रिप्टो मार्किट वॉल्यूम में बीते 24 घटों में 80.67 अरब डॉलर तक देखने को मिली है। जिसपर भी 24.14% तक की गिरावट देखने को मिली है। डिसेंट्रलाइज्ड फाइनेंस की बात करें तो उसकी पूरी वॉल्यूम इस वक्त 10.87 अरब डॉलर तक की हो गई है और यह पुरे क्रिप्टो मार्किट कैप में से13.47% तक तक की हिस्से दारी रखता है।

 बिटकॉइन की कीमतों में गिरावट जारी, Ethereum भी खिसकी नीचे 99 Hindi

साथ ही स्टेबलकॉइन्स का कुल वॉल्यूम 67.69 अरब डॉलर तक हो गया है और इसकी भी पुरे क्रिप्टो मार्किट के 24 घंटो के वॉल्यूम में 83.92% तक की वॉल्यूम है।

बिटकॉइन की कीमत भी बीते 24 घंटो में 2.21% तक की गिरावट देखने को मिली है जिसके बाद वह 41,436 डॉलर से मार्किट में ट्रेड कर रहा है। क्रिप्टो मार्किट की सबसे बड़ी करेंसी बिटकॉइन की कीमत मौजूदगी वर्तमान में 40.79% तक है। और इसी में से पिछले साल 0.29% तक की गिरावट देखने को मिली है।

एथेरियम में देखीं गई रफ़्तार -:

यदि हम एथेरियम की बात करें तो उसमे हमें 1.51% तक की गिरावट देखने को मिली है जिसके बाद वह 3,097 डॉलर से मार्किट में ट्रेड कर रहा है। बीते 24 घंटो की बात करें तो एथेरियम में 0.04% तक की बढ़ोतरी देखने को मिली थी। जिसके बाद 1 डॉलर तक बढ़ा।

वही दूसरी ओर कार्डानों हमें 2.52% से गिरते हुए दिखा और अब उसकी कीमत 0.90 डॉलर तक हो गई है। साथ ही बिनान्स कॉइन भी हमें बीते 24 घंटो में 1.08% तक गिरते हुए दिखा है और अब यह आज के दिनों में 423.51 डॉलर से मार्किट में ट्रेड करता दिख रहा है।

इसी के साथ एक्स आर पी की कीमत में 1.46 फीसदी के गिरता हुआ दिखा है जिससे उसी कीमत 0.75 डॉलर तक की ही गई है। साथ ही पोल्काडॉट की कीमत में 0.05% तक की उछाल देखने को मिली है जिससे अब उसकी कीमत 19.09 डॉलर तक हो गई है। वही डोजकॉइन 1.27% गिरता दिखा है जिसके बाद वह 0.14 डॉलर के साथ मार्किट में ट्रेड कर रहा है।

क्या क्रिप्टोकरेंसी लेगी रियल कैश की जगह -:

भारत के रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर “टी रबी शंकर” के द्वारा कुछ दिनों पहले हुए एक वेबिनार में बताया गया था कि सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी भारत के कैश के तौर पर होये जाने वाले ट्रांजैक्शन्स में रियल कैश की जगह ले सकती है। टी रबी शंकर द्वारा यह कहा गया कि बीते 5 सालो में डिजिटल ट्रांजैक्शन्स में करीबन 50% तक की बढ़ोतरी हुई है और साथ ही करेंसी की सप्लाई भी दोगुनी हुई है।

इन सब के अलावा सरकार द्वारा क्रिप्टोकरेंसी और रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बिल, 2021 को संसद में पेश करने के लिए लिस्ट किया गया था। इससे पहले वह पहले बजट सत्र के भी लिस्ट किया था। परन्तु उस बिल को बाद में पेश नहीं किया गया क्योंकि भारत सरकार जस मुद्दे पर एक बार फिर से काम करना चाहती है।

बाजार स्थिर, लेकिन 3 कॉइन्स में 1 हजार फीसदी से ज्यादा का उछाल

तो इस तरह आपने क्रिप्टो मार्किट में चल रही खबरों के बारे में जाना है और साथ ही आपने कुछ क्रिप्टोकरेंसी के बदलती कीमतों के बारे में भी जाना है। यदि आप हमारे माध्यम से क्रिप्टो मार्किट से जुड़ी खबरों के बारे में जानना चाहते है तो इसके लिए आप हमें ज़रूर फॉलो करें और साथ ही आप हमारे इस ब्लॉग को शेयर भी कर सकते है।

Previous articleबिटकॉइन, ईथर, Dogecoin में रही गिरावट, ये रहा क्रिप्टो बाजार का हाल
Next articleNFT क्या हैं और एनएएफटी कैसे काम करती है, जानिए पूरी जानकारी हिंदी में